Monday , May 20 2019
Loading...
Breaking News

इस जिले के सभी सरकारी अस्पतालो में प्रसव के लिए बजाई जाती है ये धुन

प्रदेश के सवाई माधोपुर के जिला अस्पताल सहित जिले के सभी सरकारी अस्पतालो में प्रसव के लिए आने वाली प्रसूताओं को प्रसव के दौरान दर्द से ध्यान भटकाने राहत देने के लिए नवाचार के रूप में लेबर रूम में म्यूजिकल धुन बजाई जाती है ताकि प्रसूता को दर्द का अहसास कम हो  उसका प्रसव अच्छा तरह से ही सके 

में प्रसव के लिए आने वाली स्त्रियों को दर्द से राहत देने के लिये प्रसव के दौरान लेबर रूम में म्यूजिकल धुन बजाई जाती है ताकि प्रसव के दौरान प्रसूता को दर्द से कुछ राहत मिल सकेइस मुद्दे को लेकर सामान्य चिकित्साल के पीएमओ का बोलना है कि राजस्थान सरकार द्वारा एक आदेश जारी किया गया है, जिसके तहत स्वास्थ्य विभाग के आई एस ई डिपार्टमेंट द्वारा सामान्य चिकित्सालय के लेबर रूम में बजाने के लिए एक पेनड्राईव भेजा गया है

उनका बोलना है कि जब भी लेबर रूम में कोई डिलीवरी होती है तो सरकारी आदेश के तहत म्यूजिकल धुन बजाई जाती है ताकि प्रसूता को प्रसव दर्द से कुछ राहत मिल सके उनका बोलना है कि लेबर रूम में बजाई जाने वाली धुन एक साधारण धुन है, जो सिर्फ प्रसूता का ध्यान भटकने के लिए लेबर रूम में बजाई जाती है वहीं प्रसूताओं का बोलना है कि लेबर रूम के म्यूजिकल धुन तो बजाई जाती है, मगर कौन सी धुन बजाई जाती है प्रसव दर्द के कारण उन्हें इस बात का अहसास नहीं होता है

प्रसव के दौरान लेबर रूम में बजाई जाने वाली म्यूजिकल धुन की लेकर जब हमने मुख्य चिकित्सा एंव स्वास्थ्य ऑफिसर तेजराम मीणा से बात की तो उन्होंने बोला कि सरकार द्वारा ऐसा कोई आदेश लिखित में जारी नहीं किया गया उनका बोलना है मौखिख आदेश पर ही उनके द्वारा लेबर रूम में म्यूजिकल धुन बजाने का नवाचार किया गया है, ताकि प्रसूता को प्रसव के दौरान दर्द से राहत मिल सके साथ ही लेबर रूम में बजाई जाने वाली धुन को लेकर उनका बोलना है कि ये धुन कुछ कुछ गायत्री मंत्र जैसी है पर गायत्री मंत्र नहीं है ये सिर्फ एक साधारण धुन है ये धुन किसी धार्मिक मंत्र की धुन नहीं है

प्रसव के दौरान लेबर रूम में बजाई जाने वाली म्यूजिकल धुन को लेकर भले ही कोई कुछ भी कहे, लेकिन ये धुन ना तो गायत्री मंत्र की धुन है  ना ही किसी धार्मिक मंत्र जैसी है ये महज एक साधारण म्यूजिकल धुन है जिसके बजाए जाने से प्रसूता को प्रसव दर्द से कुछ हद तक राहत जरूर मिलती है

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *