Friday , April 26 2019
Loading...
Breaking News

चुनाव प्रचार में जुटा ये कांग्रेस पार्टी का वरिष्ठ नेता हुआ घायल

चुनाव के प्रचार में जुटे कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता शशि थरूर के घायल होने की समाचार है ऐसा बताया जा रहा है कि थरूर तिरुवनंतपुरम में अपने चुनावी प्रोग्राम के दौरान मंदिर में प्रार्थना करने के लिए पहुंचे थे, इसी दौरान उन्हें चोट लग गई शशि थरूर को तुरंत पास के जनरल अस्पताल में भर्ती कराया गया थरूर के सिर में चोट लगी, उनके सिर में 6 टांके लगे हैं डॉक्टरों का कहना है कि वह खतरे से बाहर हैं शशि थरूर एक बार फिर तिरुवनंतपुरम से भाग्य आजमा रहे हैं उनके सामने भाजपा के कुम्मनम राजशेखरन सीपीआई केसी दिवाकरन मैदान में है

तुलाभारम के संस्कार के दौरान लगी चोट
केरल के रीति-रिवाजों के मुताबिक तुलाभारम का संस्कार मंदिरों में होता है इसमें तराजू के एक पलड़े में आदमी को बैठाया जाता है  दूसरे पलड़े में किसी चीज को रखा जाता है इन वस्तुओं में लड्डू, मिठाई, फल, सिक्के आदि हो सकते हैं जिस वक्त यह संस्कार चल रहा था उसी दौरान तराजू की चेन टूट गई  कांग्रेस पार्टी नेता के सिर में चोट लग गई शशि थरूर अपने प्रचार अभियान के दौरान ऐसे कई कार्यक्रमों में लगातार शिरकत करते रहे हैं

11 अप्रैल को ही उन्होंने ऐसे ही किसी प्रोग्राम की फोटोज़ अपने ट्विटर अकाउंट से शेयर की थी

थरूर को नहीं मिल रहा है लोकल नेताओं का साथ?
रविवार (14 अप्रैल) को कांग्रेस पार्टी महासचिव केसी वेणुगोपाल ने बोला कि तिरुवनंतपुरम में एक विशेष पर्यवेक्षक नियुक्त करने का कांग्रेस पार्टी का फैसला प्रमुख निर्वाचन क्षेत्रों में चुनावी गतिविधियों की निगरानी करने के लिए है  वरिष्ठ नेता नाना पटोले को तिरुवनंतपुरम निर्वाचन एरिया में पर्यवेक्षक के रूप में नियुक्त किया गया है जहां से पार्टी उम्मीदवार शशि थरूर चुनाव लड़ रहे हैं उन्होंने मीडिया में आयी उन खबरों का जिक्र किया कि थरूर ने लोकल नेताओं द्वारा चुनाव एरिया में उनके लिए चुनाव प्रचार नहीं करने के बारे में कांग्रेस पार्टी से शिकायत की थी  बोला कि “ये सिर्फ अफवाहें थीं ’’

प्रधानमंत्री ने सबरीमला श्रद्धालुओं को ‘‘धोखा’’ किया :कांग्रेस 
केरल में विपक्षी कांग्रेस पार्टी ने रविवार (14 अप्रैल) को सबरीमला मुद्दे पर भाजपा  पीएम नरेंद्र मोदी पर हमला करते हुए बोला कि लोग ईश्वर अयप्पा के नाम पर भगवा पार्टी द्वारा किये जा रहे ‘नाटक’ को बर्दाश्त नहीं करेंगे  श्रद्धालुओं से ‘‘धोखा’’ किया गया है अखिल इंडियन कांग्रेस पार्टी कमेटी के महासचिव (संगठन) के सी वेणुगोपाल ने मोदी  भाजपा पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि पार्टी ने श्रद्धालुओं से ‘‘धोखा’’ किया है  वे ‘‘सबरीमला के लिए तभी ईमानदार होते हैं, जब चुनाव  मतदान आता है ’’

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने आरोप लगाया कि सबरीमला मुद्दे को बिगाड़ने में केंद्र  राज्य दोनों की मिलीभगत थी उन्होंने कहा, ‘‘प्रधानमंत्री सबरीमला पर नाटक क्यों कर रहे हैं? मैंने चार जनवरी को संसद में मामला उठाया था मैंने श्रद्धालुओं के अधिकारों की रक्षा के लिए विधायी हस्तक्षेप की मांग की थी ’’  वेणुगोपाल ने सवाल किया, ‘‘क्या पीएम या उनके मंत्री ने संसद में इस मुद्दे पर एक भी शब्द बोला?’’

‘सबरीमाला मुद्दे पर तीन तलाक की तरह का उत्साह क्यों नहीं दिखाया’
कांग्रेस पार्टी नेता ने यह भी उल्लेख किया कि एनडीए तीन तलाक पर निष्प्रभावी हो गए विधेयक को फिर से लागू करने के लिए अध्यादेश लाया उन्होंने सवाल किया कि सबरीमला के मामले में उस तरह का उत्साह क्यों नहीं था वेणुगोपाल ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘एक अध्यादेश पर्याप्त होता केंद्र विश्वास के नाम पर हस्तक्षेप कर सकता थालेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया ’’

मोदी ने बोला कि उनकी पार्टी  गवर्नमेंट सबरीमला की परंपराओं को समझाते हुए उच्चतम कोर्ट का दरवाजा खटखटाएगी वे ऐसा बहुत पहले कर सकते थे लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया लोग हर तरह के नाटक को बर्दाश्त कर लेंगे लेकिन चुनावी नाटक के लिए स्वामी अयप्पा के नाम का प्रयोग करना सीमा से परे है ’’ उन्होंने बोला कि कांग्रेस पार्टी ने सबरीमला मामले पर विधायी हस्तक्षेप के लिए आधिकारिक तौर पर संसद में बोला है

केरल की वाम गवर्नमेंट को भी घेरा
वेणुगोपाल ने रविवार को राज्य में वाम गवर्नमेंट पर हमला करते हुए बोला कि यह उच्चतम कोर्ट के निर्णय को लागू करने के लिए समय मांग सकती थी लेकिन ऐसा नहीं कियाउन्होंने आरोप लगाया, ‘‘आरएसएस/ संघ परिवार ने पहाड़ी मंदिर में शांति खत्म करने की प्रयास की ईमानदार श्रद्धालुओं को प्रार्थना करने के उनके अधिकारों से वंचित किया गयास्थिति को  बेकार करने में राज्य  केंद्र गवर्नमेंट की मिलीभगत थी सबरीमला मुद्दे को बिगाड़ने के लिए दोनों सरकारें जिम्मेदार थीं ’’

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *