Friday , April 26 2019
Loading...
Breaking News

धोनी पर कम से कम दो या तीन मैच का निलंबन लगाया चाहिए जाना: वीरेंद्र सहवाग

भारतीय प्रीमियर लीग (आईपीएल) के एक मैच में राजस्थान रॉयल्स के विरूद्ध ‘नोबॉल’ फैसला को लेकर चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने मैदान पर फील्ड अंपायर से बहस कर ली थी. इस बहस के बाद मैच रेफरी ने उन्हें आचार संहिता के उल्लंघन का दोषी पाते हुए मैच फीस की पचास फीसद का जुर्माना लगाया था, किन्तु कुछ सीनियर खिलाड़ी इस सजा से प्रसन्न नहीं हैं. वे इसे कम मान रहे हैं.

इसे लेकर महान बल्लेबाज़ वीरेंद्र सहवाग ने बोला कि एम एस धोनी पर कम से कम दो या तीन मैच का निलंबन लगाया जाना चाहिए था. पूर्व धाकड़ बल्लेबाज ने धोनी के निर्णय को गलत करार देते हुए बोला कि, ‘मेरे ख्याल से धोनी को मैदान में नहीं आना चाहिए था. वहां मैदान पर बल्लेबाज मौजूद थे, जो अंपायर्स से नोबॉल पर वार्ता कर लेते.‘ साथ ही सहवाग ने धोनी को दी गई सजा को कम बताते हुए बोला है कि, ‘इसके लिए धोनी पर 2 या 3 मैच का बैन लगाया जाना चाहिए था. इससे उन्हें अंपायरों की अहमियत पता चलती.

इस दौरान पूर्व सलामी बल्लेबाज़ वीरेंद्र सहवाग ने बोला है कि धोनी यदि इंडियन क्रिकेट टीम के लिए ऐसा करते तो मुझे प्रसन्नता होती. मैंने उन्हें भारतीय टीम के लिए इस तरह मैदान में गुस्सा होते हुए कभी नहीं देखा. मुझे लगता है कि वे चेन्नई की टीम के लिए अधिक भावुक हो गए. आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि चेन्नई  राजस्थान के बीच खेले गए एक मुकाबले में धोनी ने नो बॉल को लेकर अम्पायर्स से बहस कर ली थी, जिसके बाद से ये सारा टकराव खड़ा हुआ था

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *