Friday , May 24 2019
Loading...
Breaking News

इमली की चटनी ऐसे आपके शुगर को कर सकती है दूर

इमली की चटनी बनाने के लिए या किसी भी खाने में खट्टा स्वाद लाने के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता है. विटामिन सी, ई  बी का भरपूर स्रोत इमली में इसके अतिरिक्तफास्फोरस, आयरन, मैंगनीज  फाइबर जैसे पोशक तत्व भी पाए जाते हैं. बॉडी की विभिन्न पोषण संबंधी आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए इमली प्रयोग में लाई जाती है. इमली के फल, छाल  पत्तों तक का औषधीय महत्व होता है. इमली के पत्ते कई तरह के गंभीर रोगों के उपचार में कार्य आते हैं. शुगर, डायबिटीज, मलेरिया  अल्सर जैसी समस्याएं इमली के पत्ते से सही की जा सकती हैं.

ऐसे मिल सकता है फायदा

जानकारी के लिए बता दें इमली की पत्तियां खाने से बॉडी में शर्करा का स्तर नियंत्रित रहता है. इससे इंसुलिन की सेंसिटिविटी भी बढ़ जाती है. मधुमेह की बीमारी में यह बहुत फायदेमंदहै. पीलिया में इसका सेवन बहुत लाभकारी होता है. इमली के पत्तों का रस अल्सर के लक्षणों से राहत देने में मदद करता है. अल्सर में होने वाले असहनीय दर्द से राहत दिलाने में इमली के पत्तियों के रस बेहद फायदेमंद होते हैं.

इन बीमारियों में है लाभकारी

यह है इसके तरीका इमली के पत्ते एंटी-सेप्टिक गुणों से भरपूर होते हैं. इमली के पत्तों का रस घावों को जल्दी अच्छा करने की क्षमता रखते हैं. इनके पत्तों का रस हर तरह के संक्रमण को रोकने में अच्छा है. नयी कोशिकाओं के निर्माण में भी इसकी अहम किरदार होती है. इसी के साथ इमली की पत्तियों में पर्याप्त मात्रा में विटामिन सी पाया जाता है इसलिए यह स्कर्वी रोग के इलाज में बहुत ज्यादा फायदेमंद होता है. इमली के पत्तों में उच्च एस्कॉर्बिक एसिड सामग्री होती है, जो एंटी-स्कर्वी विटामिन के रूप में काम करती है.

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *