Tuesday , March 19 2019
Loading...
Breaking News

राहुल गांधी ने पीएम मोदी की चाइना संबंधी कूटनीति पर साधा निशाना, कहा…

 कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी ने मसूद अजहर के मामले में चाइना के रुख पर पीएम नरेंद्र मोदी की चाइना संबंधी कूटनीति पर निशाना साधा उस पर पलटवार करते हुए केंद्रीय मंत्री  भाजपा नेता रविशंकर प्रसाद ने बोला कि भाजपा पर हमला करने से पहले कांग्रेस पार्टी अध्‍यक्ष को अपनी विरासत देखनी चाहिए कांग्रेस पार्टी नेता शशि थरूर की किताब का हवाला देते हुए 2009 में एक अखबार में प्रकाशित आर्टिक्ल का जिक्र करते हुए उन्‍होंने बोला कि पंडित नेहरू की वजह से चीन, संयुक्‍त राष्‍ट्र का स्‍थायी सदस्‍य बना नेहरू की गलती की सजा भुगत रहा है इस सिलसिले में उन्‍होंने राहुल गांधी को सलाह देते हुए बोला कि बिहार में एक कहावत है कि हचका बचाकर के चलना चाहिए यानी राहुल गांधी को भी कुछ कहने से पहले आगा-पीछा सोच कर बोलना चाहिए

दरअसल इससे पहले राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए ट्विटर हैंडल से लिखा है कि पीएम मोदी , चाइना से भय गए हैं उन्‍होंने चाइना के रुख पर एक शब्‍द भी नहीं कहा है इस पर रविशंकर प्रसाद ने राहुल गांधी से सवालिया लहजे में पूछा कि राहुल गांधी जब हिंदुस्तान को पीड़ा होती है तो आपको खुशी क्‍यों होती है? घोर आतंकी को लेकर चाइनाकी पुरानी नीति पर आप खुश हैं? आपके ट्वीट पर पाक में ख़ुशी हो रही है

जैश-ए-मोहम्‍मद के मुखिया मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित करने के रास्‍ते में चाइना के अड़ंगा लगाने के मसले पर रविशंकर प्रसाद ने बोला कि एक हत्‍यारे को वैश्विक आतंकवादी घोषित करने के कोशिश होते रहे हैं कल इसमें फिर चाइना ने टेक्निकल होल्‍ड डाला है अब तक इस विषय में चार बार 2009, 2016, 2017  2019 में कोशिशें हुई हैंअबकी बार इस प्रस्‍ताव को अमेरिका, ब्रिटेन, फ्रांस लेकर आए ये हिंदुस्तान की बहुत बड़ी कूटनीतिक जीत है

राहुल पर तंज
रविशंकर प्रसाद ने राहुल गांधी से सवाल किया, ‘2009 में यूपीए के समय में भी चाइना ने यूएनएससी में ऐसा ही अडंगा लगाया था, क्या उस समय आपने ट्विटर हैंडल से लिखा है था? भाजपा नेता ने कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष से पूछा, ‘राहुल गांधी जी आपके तो चाइना से अच्छे संबंध है, डोकलाम के वक्त आप चाइना के दूतावास में गए थे जब हिंदुस्तान की सेना तनाव में खड़ी थी तो राहुल गांधी बिना हिंदुस्तान गवर्नमेंट की अनुमति के चाइना के दूतावास में गए थे जब आपके चाइना से अच्छे संबंध है तो आप इस आतंकी के मामले में राष्ट्र को थोड़ा फायदा पहुंचाते, चाइना को समझाते ‘

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *