Tuesday , March 26 2019
Loading...
Breaking News

अजित सिंह ने सीट-शेयरिंग के मसले पर कही ये बात

2019 लोकसभा चुनाव के लिए सपा-बसपा के संभावित साझेदारी के बीच राष्‍ट्रीय लोक दल (रालोद) के अध्‍यक्ष अजित सिंह ने सीट-शेयरिंग के मसले पर बोला कि हम भी इसका हिस्‍सा हैं लेकिन अभी सीटों पर चर्चा नहीं हुई है कांग्रेस पार्टी को महागठबंधन में शामिल करने के मसले पर अजित सिंह ने बोला कि ये मायावती  अखिलेश तय करेंगे कि कांग्रेस पार्टी इसका हिस्‍सा होगी या नहीं इस बीच उत्तर प्रदेश में सपा-बसपा महागठबंधन की शनिवार को होने वाली साझा प्रेस कांफ्रेस के लिये राष्ट्रीय लोकदल को इसमें शामिल होने का न्यौता नहीं मिला है हालांकि पार्टी के उपाध्यक्ष जयंत चौधरी कल राजधानी लखनऊ में रहेंगे  संभवत: बाद में मायावती  अखिलेश यादव से मुलाकात भी कर सकते हैं

रालोद ने मांगी छह सीटें
सूत्रों के मुताबिक राष्ट्रीय लोकदल ने छह सीटों की मांग की है जबकि महागठबंधन द्वारा दो से तीन सीटें देने की बात चल रही है रालोद के प्रदेश अध्यक्ष मसूद अहमद ने बताया कि पार्टी उपाध्यक्ष जयंत चौधरी कल शनिवार को लखनऊ आ रहे हैं, लेकिन अभी तक उन्हें महागठबंधन के नेताओं की साझा प्रेस कांफ्रेस में आने का न्यौता नहीं मिला है अगर न्यौता मिलता है तो वह प्रेस कांफ्रेस में जरूर जायेंगे

सूत्रों के अनुसार, समाजवादी पार्टी  बसपा के इस महागठबंधन में रालोद को दो से तीन लोकसभा सीटें देने पर विचार किया जा सकता है इससे पहले मंगलवार को रालोद के उपाध्यक्ष जयंत चौधरी ने सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से उनके ऑफिस में मुलाकात भी की थी

अहमद ने बुधवार को बोला था, ‘पार्टी महागठबंधन का भाग है  पार्टी नेतृत्व ने लोकसभा चुनाव में छह सीटों की मांग की है, यह सीटें है बागपत, मथुरा, मुजफ्फरनगर, हाथरस, अमरोहा  कैराना ‘ उन्होंने बोला कि कैराना लोकसभा सीट तो रालोद के पास पहले ही है अब पांच सीटों की  मांग की गई है इस बारे में निर्णय पार्टी के उपाध्यक्ष जयंत चौधरी सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव तथा बीएसपी सुप्रीमो मायावती के बीच वार्ता के बाद तय होगा

सपा ऑफिस में मंगलवार को अखिलेश से मुलाकात के बाद रालोद उपाध्यक्ष चौधरी ने बोला था कि अखिलेश के साथ राजनीतिक परिस्थितियों पर चर्चा हुई उनसे पूछा गया था कि क्या साझेदारी में रालोद को मिलने वाली सीटों पर भी चर्चा हुई इस सवाल को उन्होंने टालते हुये बोला कि ‘सीटों की बेचैनी मीडिया को है, सारी बाते साफ होंगी, सस्पेंस बनायें रखें ‘ लोकसभा चुनाव में कांग्रेस पार्टी के साथ किसी भी साझेदारी के सवाल को वह टाल गये थे

सपा-बसपा की कल साझा प्रेस कांफ्रेस
उल्‍लेखनीय है कि समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव  बसपा सुप्रीमो मायावती कल शनिवार दोपहर को एक साझा पत्रकार बातचीत करेंगे माना जा रहा है इसमें लोकसभा चुनावों में महागठबंधन की सीटों को लेकर घोषणा हो सकती है इस आशय की जानकारी शुक्रवार प्रातः काल बीएसपी के महासचिव सतीश मिश्रा  सपा सचिव राजेंद्र चौधरी ने एक साझा बयान में दी यह पत्रकार बातचीत शनिवार दोपहर शहर के पांच सितारा होटल में आयोजित होनी है

हाल ही में दोनों दलों के नेताओं ने दिल्ली में भेंट कर लोकसभा चुनावों में महागठबंधन के स्वरूप पर चर्चा की थी

सूत्रों के अनुसार यूपी में लोकसभा की 80 सीटों में से सपा  बीएसपी की योजना 37-37 सीटों पर चुनाव लड़ने की है इसके अतिरिक्त राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) को भी दो या तीन सीटें देने की चर्चा है कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी की सीट अमेठी  सोनिया गांधी की सीट रायबरेली पर महागठबंधन अपने उम्मीदवार नहीं उतारेगा

अखिलेश  मायावती की शनिवार को दोपहर 12 बजे लखनऊ में साझा कांफ्रेंस है 

निषाद पार्टी को भी महागठबंधन में शामिल किया जा सकता है 2014 के लोकसभा चुनाव में प्रदेश की 80 सीटों में से बीजेपी साझेदारी ने 73 सीटें जीती थीं  इस बार उसके नेता 73 से ज्यादा सीटें जीतने का दावा कर रहे हैं बसपा-सपा  रालोद ने साथ मिलकर उपचुनाव लड़ा था जिसमें CM योगी आदित्यनाथ की गोरखपुर सीट  उप CM की फूलपुर सीट से सपा प्रत्याशियों को जीत मिली थी जबकि कैराना सीट पर रालोद प्रत्याशी ने बीजेपी से यह सीट छीनी थी

बसपा सुप्रीमो मायावती गुरुवार शाम दिल्ली से लखनऊ पहुंची पहले यह अनुमान लगाया जा रहा था कि वह 15 जनवरी को अपने जन्म दिन के दिन महागठबंधन की साझा प्रेस कांफ्रेंस कर सकती है लेकिन अब जन्म दिन के तीन दिन पहले ही इस प्रेस कांफ्रेस का आयोजन किया जा रहा है

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *