Thursday , December 13 2018
Loading...

ओपनर के एल राहुल ऑस्ट्रेलिया दौरे पर कर रहे प्रयत्न, हुए फ्लॉप

ऑस्ट्रेलिया दौरे पर लगातार प्रयत्न कर रहे केएल राहुल एक बार फिर फ्लॉप रहे वे एडिलेड टेस्ट में महज आठ गेंदों का सामना कर पाए  दो रन बनाकर आउट हो गएउनकी इस बेकार फॉर्म की वजह से हिंदुस्तान को पहले टेस्ट मैच में अच्छी आरंभ नहीं मिल सकी केएल राहुल जब आउट हुए, तब इंडियन टीम का स्कोर महज तीन रन था वे जोश हेजलवुड की गेंद पर एरॉन फिंच के हाथों स्लिप में लपके गए ने इस वर्ष आखिरी फिफ्टी एशिया कप में अफगानिस्तान के विरूद्ध लगाई थी उन्होंने 25 सितंबर को खेले गए इस मैच में 60 रन बनाए थे

Loading...

ओपनर केएल राहुल ऑस्ट्रेलिया दौरे पर लगातार प्रयत्न कर रहे हैं यह उनका इस दौरे पर चौथा मैच है वे इससे पहले तीन टी20 मैचों की सीरीज में सिर्फ 27 रन ही बना सके थे उन्हें टी20 सीरीज में दो पारियों में ही बैटिंग करने का मौका मिला सीरीज का दूसरा टी20 मैच बारिश के कारण रद्द हो गया था

विंडीज के विरूद्ध भी बेकार खेल 
राहुल सिर्फ ऑस्ट्रेलिया ही नहीं, वेस्टइंडीज के विरूद्ध भी रन नहीं बना पाए थे वे विंडीज के विरूद्ध तीन टी20 मैच  दो टेस्ट मैच में भारतीय टीम का भाग थे उन्होंने तीन टी20 मैच में 59 रन बनाए थे वे पहले मैच में 16  तीसरे मैच में 17 रन बनाकर आउट हुए थे दूसरे टी20 मैच में 26 रन बनाकर नॉटआउट रहे थे इसी तरह उन्हें दो टेस्ट मैचों में तीन बार बैटिंग का मौका मिला था वे एक बार खाता नहीं खोल सके थे एक बार चार रन बनाकर आउट हुए थे  एक बार 33 रन बनाकर नॉटआउट रहे थे

loading...

14 टेस्ट पारियों में सिर्फ एक फिफ्टी 
केएल राहुल टेस्ट मैचों में लगातार अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पा रहे हैं उन्होंने पिछली 14 टेस्ट पारियों में सिर्फ एक बार 50 रन का आंकड़ा पार किया है हालांकि, तब वे शतक बनाने में सफल रहे थे उन्होंने यह पारी इंग्लैंड के विरूद्ध ओवल टेस्ट में खेली थी तब उन्होंने 149 रन की पारी खेली थी वे संभवत: इसी पारी की वजह से टीम में स्थान बनाने में सफल रहे थेराहुल ने इस शतक के बाद चार  टेस्ट पारियां खेली हैं, जिनमें उनका स्कोर 0, 4, 33*  2 रन है

पिछले 18 वर्ष में 32 टेस्ट खेलने वाले राष्ट्र के पांचवें ओपनर 
केएल राहुल हिंदुस्तान के उन खिलाड़ियों में शामिल है, जिन्हें बेहद प्रतिभाशाली माना जाता है इस मैच से पहले ही ऑस्ट्रेलिया के माइकल क्लार्क ने बोला कि वे राहुल को विराट कोहली के बाद भारतीय टीम का सबसे बेहतरीन बल्लेबाज मानते हैं राहुल पिछले 18 वर्ष में सिर्फ पांचवें इंडियन ओपनर हैं, जिन्हें 32 या इससे अधिक टेस्ट मैच खेलने का मौका मिला है उनके अतिरिक्त वीरेंद्र सहवाग (103), मुरली विजय (60), गौतम गंभीर (58)  शिखर धवन (34) ही ऐसे ओपनर हैं, जिन्होंने वर्ष 2000 के बाद 32 टेस्ट मैच खेले हैं

2018 में 11 टेस्ट में 422 रन ही बना पाए 
केएल राहुल ने वर्ष 2011 में 11 टेस्ट मैच खेले हैं वे इन मैचों की 19 पारियों में 23.44 की औसत से महज 422 रन बना पाए वे इस वर्ष सिर्फ एक शतक  एक अर्धशतक लगा सके हैं उनकी यह बेकार फॉर्म भारतीय टीम की चिंता बढ़ा सकती है ऐसा इसलिए भी होगा, क्योंकि इस दौरे पर हिंदुस्तान के तीसरे ओपनर पृथ्वी शॉ चोटिल हैं उनके दूसरे टेस्ट में भी खेलने की उम्मीद बेहद कम है

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *