Thursday , December 13 2018
Loading...

लश्कर-ए-तैयबा के चीफ हाफिज सईद अचानक फिर से एक बार सुर्खियों में

लश्कर-ए-तैयबा के चीफ हाफिज सईद अचानक फिर से सुर्खियों में है. 10 मीलियन अमेरिकी डॉलर इनामी हाफिज सईद और उसके लश्कर पर लगी पाबंदी पिछले हफ्ते ही पाकिस्तान ने हटाई है. और अब चौंकाने वाली खबर ये आ रही है कि पाकिस्तानी सेना और पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई की मदद से हाफिज ने दो साल के अंदर पाकिस्तान में तख्ता पलट का पूरा ब्लू प्रिंट तैयार कर लिया है. इतना ही नहीं हाफिज ने अपने प्लान 20-20 के तहत जो प्लान बनाया है वो अगर कहीं कामयाब हो गया तो पाकिस्तान पूरी दुनिया के लिए खतरा बन जाएगा.

Loading...

क्या पाकिस्तान में फिर तख्ता पलट होगा? क्या आतंक का आका पीएम बनने वाला है? 2020 में हाफिज़ सईद बनेगा पाकिस्तान का पीएम? ये सारे सवाल एक रिपोर्ट के बाद उठ रहे हैं. उस रिपोर्ट में ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की तरफ से ये सनसनीखेज़ खुलासा किया गया है.

सिर्फ तीन महीने पुरानी बात है. पाकिस्तान के आम चुनाव में हाफिज़ सईद और आतंक के उसके लश्कर का खाता तक नहीं खुला था. ज़मानत तक ज़ब्त हो गई थी. एक तरह से पाकिस्तानी अवाम ने ही हाफिज़ और उशके लश्कर को पूरी तरह से नकार दिया था. मगर इस करारी और शर्मनाक हार के बावजूद हाफिज़ सईद ने एक ऐसे ब्लू प्रिंट तैयार किया है. जिसकी बदौलत वो सिर्फ दो साल में ही पाकिस्तान के प्रधानमंत्री पद को हथियाने जा रहा है. चौंकाने वाली बात ये है कि इस साज़िश का खुलासा कोई और नहीं बल्कि ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की एक रिपोर्ट ने किया है.

loading...

सिर्फ हफ्ते भर पहले ही इमरान खान ने हाफिज़ और हाफिज़ के लश्कर पर लगे बैन को हटाया था. बाकायदा हाफिज़ सईद ने इस बारे में पाकिस्तान की अदालत को जानकारी भी दी. अब वही हाफिज़ सईद करारी चुनावी हार के बावजूद ट्वेंटी ट्वेंटी की साज़िश में जुट गया है.

हाफिज़ सईद के इस प्लान 20-20 का पूरा खुलासा करूं उससे पहले आपको बता दूं कि इंग्लैंड की जिस ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी ने ये चौकाने वाला खुलासा किया है. उसी ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि इस वक्त सीरिया से भी ज़्यादा आतंकवादी पाकिस्तान की ज़मीं पर फल फूल रहे हैं. इतना ही नहीं इन आतंकवादियों की मौजूदगी की वजह से पाकिस्तान मानवता के लिए सीरिया से 3 गुना ज़्यादा खतरनाक है.

ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की इस रिपोर्ट के मुताबिक दो साल बाद हाफिज़ सईद पाकिस्तान की सत्ता पर कब्ज़ा कर लेगा. और इसमें सिर्फ पाकिस्तानी सेना या उसके आतंकी संगठन नहीं बल्कि दुनिया के दूसरे मुल्क भी पीएम की कुर्सी तक पहुंचने के लिए उसकी सीढी बनेंगे.

तसव्वुर कीजिए एक इनामी आतंकी कल अगर पाकिस्तान का प्रधानमंत्री बनेगा तो क्या होगा. यकीनन ये कल्पना भी भारत को असहज करने वाली है. क्योंकि भारत जिसे मुल्क में आतंकी हमले का जिम्मेदार मानता है. और जिसके संगठन को आतंकी संगठन घोषित करने के लिए दुनियाभर में समर्थन हासिल कर रहा है. जब वही प्रधानमंत्री बन जाएगा. तो भारत की विदेश नीति का क्या होगा.

मगर सवाल ये है कि आखिर हाफिज़ का 20-20 प्लान क्या है. क्योंकि हालिया आम चुनाव में उसे एक सीट भी नसीब नहीं हुई थी. उसके तमाम आतंकी गुर्गों की ज़मानत ज़ब्त हो गई. यहां तक की उसकी पार्टी को चुनाव आयोग ने चुनाव भी लड़ने नहीं दिया गया. तो फिर महज़ दो सालों में ऐसा क्या होने वाला है कि आतंक का मंत्री पाकिस्तान का प्रधानमंत्री बन जाएगा. क्या हाफिज़ सईद और सेना इमरान खान की सरकार का तख्ता पलट करने वाली है.

Loading...
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *