Friday , April 26 2019
Loading...
Breaking News

पीरियड्स का रंग बताता है बिमारियों का पता

पीरियड स्त्रियों की जिंदगी का एक अहम भाग होता है इससे हर महिला को जूझना पड़ता है हर महीने में होने वाली कठिनाई से कोई बच तो नहीं सकती लेकिन इससे ये जान सकती हैं कि आप स्वस्थ हैं या नहीं जी हाँ, आपको नहीं पता होगा कि पीरियड्स का रंग बहुत कुछ कहता है इन दिनों स्त्रियों को पेट, कमर, पैर दर्द  मूड स्विंग जैसी समस्याओं से जूझना होता है पीरियड के दौरान निकलने वाले रक्त के रंग से बिमारियों का पता लगाया जा सकता है आइए इस बारे में  जानते है

भूरा कलर: गहरा भूरा रंग पुराने खून का प्रतीक है यह रक्त लंबे समय तक गर्भाशय में संग्रहीत था, जो अब बहा है इस टाइप का खून सुबह-सुबह देखने को मिलता है

लाल रंग: लाल रंग नया खून होता है बॉडी से तुरंत निकला यह खून बहुत ज्यादा हल्‍का होता है जो कि हैवी ब्‍लीडिंग के साथ बिना गहराए निकलता है

मध्‍यम लाल कलर: इस तरह का खून पीरियड्स के लिये स्वास्थ्य वर्धक माना जाता है यह आमतौर पर पीरियड के दूसरे दिन दिखाई देता है एक्‍सपर्ट्स कहते हैं कि जिन्‍हें लंबी पीरियड साइकिल होती है, उन्‍हें यह रंग देखने को मिलता है

काला या ग्रे रंग: इस रंग को बिलकुल भी अनदेखा ना करे यह एक नुकसानदेह सूचना के सामान है ग्रे या काले रंग का रक्‍त, यूट्रस में इंफेक्‍शन या मिसकैरेज का इशारा देता है

नारंगी रंग: खून का गर्भाशय ग्रीवा के साथ मिक्‍स हो जाने पर यह रंग देखने को मिलता है ब्राइट ऑरेंज कलर का रक्‍त कभी कभी संक्रमण का भी इशारा होता है

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *